Rediff.com  » Getahead » कैसे बना एक रेलवे कर्मचारी का बेटा भारत का #1 रैपर

कैसे बना एक रेलवे कर्मचारी का बेटा भारत का #1 रैपर

By दिव्या नायर और हितेश हरिसिंघानी
August 13, 2019 09:08 IST
Get Rediff News in your Inbox:

2011 में, दिलिन नायर को एक रिऐलिटी शो ने नकार दिया था। आज कई साल बाद, वह टीवी पर अनेक शोज़ को जज कर रहे हैं और युवा भारत के अगले सुपरस्टार बनने के सफ़र में युवा कलाकारों का मार्गदर्शन कर रहे हैं।

उन्होंने हमें बताया कि कैसे किया उन्होंने अपने सपनों को साकार।

टेक्स्ट: दिव्या नायर / रिडिफ़.कॉम

वीडियो: हितेश हरिसिंघानी / रिडिफ़.कॉम

Raftaar's story inspires artistes young and old to learn from their mistakes and keep fighting for their dreams.  Photograph: Kind courtesy Raftaar/Instagram

फोटो: रफ़्तार की कहानी सभी छोटे-बड़े कलाकारों को अपनी ग़लतियों से सीखने और अपने सपनों की ओर आगे बढ़ते रहने के लिये प्रेरित करती है। फोटोग्राफ: Raftaar/Instagram के सौजन्य से

जब दिलिन नायर ने डांस रिऐलिटी शो डांस इंडिया डांस  में अपनी शुरुआत की, तब उन्हें प्रसिद्धि के कुछ पल मिले।

उन्हें अपने डांस और रैपिंग का हुनर दिखाने का मौका मिला। लेकिन भारत को तब उनके कलाकार बनने के सफ़र में आये संघर्ष, असफलता और ठोकरों से भरे के वर्षों के बारे में पता नहीं था।

केरल के एक रेलवे कर्मचारी के बेटे दिलिन को संगीत या नृत्य में कोई औपचारिक प्रशिक्षण नहीं मिला है।

उन्होंने गाने लिखना सीखते हुए, और अपनी राह में आने वाली हर चीज़ से प्रेरणा लेते हुए धीरे-धीरे कामयाबी की ओर बढ़ना शुरू किया।

दिलिन को याद है कि 90 के दशक में वह "माइकल जैक्सन को सुनते हुए और ऋतिक रोशन के गानों पर नाचते हुए" बड़े हुए हैं, क्योंकि उस समय "कोई रिऐलिटी शो नहीं था" जिसमें वो हिस्सा ले सकें।

"मेरे पिता अपने दोस्तों के घर से और रेलवे स्टेशन्स से कैसेट्स ले आते थे। हम उन्हें घर पर सुनने का पूरा मज़ा लेते थे," उन्होंने अपने शुरुआती दिनों को याद करते हुए बताया।

आज कई वर्ष बाद, दिलिन उर्फ़ रफ़्तार कई फिल्मों में गाने गा चुके हैं, रेडियो और टीवी के कई शोज़ पर आ चुके हैं और अनेक रिऐलिटी शोज़ पर जज की भूमिका निभा रहे हैं।

वीडियो में देखिये कि कैसे दिलिन नायर बने रफ़्तार, भारत के सबसे ज़्यादा बिकने वाले रैप आर्टिस्ट्स में से एक।

ठुकराये जाने से लेकर कामयाबी तक

पहले कुछ राउंड्स में बाहर निकलने वाले प्रतियोगी से लेकर रिऐलिटी शो का जज बनने तक (वह एमटीवी हसल  के जजेज़ में से एक हैं), रफ़्तार ने लंबी दूरी तय कर ली है।

उन्होंने ऐसा किया कैसे? नीचे दिया गया वीडियो देखें

भारत के अगले सुपरस्टार की तलाश

रफ़्तार उन्हें नकारने वाले सभी लोगों के शुक्रग़ुज़ार हैं।

उन्हें लगता है कि ठोकर खाना कलाकार की सफलता के सफ़र का सबसे अहम हिस्सा होता है।

असल में, वह ऐसे कुछ कलाकारों में से एक हैं, जो उभरते म्युज़िशियन्स के साथ करीबी से काम कर रहे हैं, उन्हें उनकी कला को निखारना सिखा रहे हैं और सफलता की राह पर उनका मार्गदर्शन कर रहे हैं।

उनका नया शो एमटीवी हसल  उन सभी प्रतिभाशाली, वंचित वर्ग के कलाकारों के लिये एक बड़ा मौका है, जो बड़े करियर ब्रेक की तलाश में हैं, उन्होंने बताया।

रैपर कैसे बनें!

भारत के अगले सुपरस्टार बनने के लिये रफ़्तार के सुझाव इस वीडियो में देखें

Get Rediff News in your Inbox:
दिव्या नायर और हितेश हरिसिंघानी
Related News: 1
SHARE THIS STORYCOMMENT