Rediff.com
Print this article

इस गली बॉय ने अपने करियर की शुरुआत मुंबई की एक चॉल से की

Last updated on: September 30, 2019 11:59 IST

पाँच सालों में नेज़ी उर्फ़ नवेद शेख़ मुंबई की झोपड़पट्टियों में रहने वाले एक गली बॉय से भारत के रैप जगत के सितारे बन गये।

2014 में आफ़त के साथ अपना रैप करियर शुरू करते समय उन्हें पता था कि उन्हें सफलता ज़रूर मिलेगी। लेकिन उन्हें अपने सामने आने वाली चुनौतियों का अंदाज़ा नहीं था।

26 वर्षीय नेज़ी ने अनिता ऐकारा/रिडिफ़.कॉम को इन चुनौतियों, उनका हौसला न टूटने के कारणों के बारे में बताया और स्पष्ट किया कि क्यों हमें उनके जैसे रैपर्स की ज़रूरत है।

वीडियो: हितेश हरिसिंघानी/ रिडिफ़.कॉम

Kind courtesy Naezy/Instagram

फोटोग्राफ्स: Naezy/Instagram के सौजन्य से

उनका सफ़र

यह बिल्कुल आसान नहीं था! शुरुआत से ही मेरे लिये रैप को पहले अपने शौक और फिर करियर के विकल्प के रूप में चुनना एक मुश्किल फ़ैसला था।

मैं एक रूढ़िवादी मुस्लिम परिवार से हूं और मेरे माता-पिता हमेशा से ही संगीत और मनोरंजन के ख़िलाफ़ रहे हैं।

मेरी माँ एक गृहिणी हैं, लेकिन वो उर्दू और अरबी भाषा पढ़ाती भी हैं। मेरे पिता दुबई में काम करते हैं।

शुरुआत में, मेरे लिये उन्हें समझाना मुश्किल था कि मैं सचमुच इस काम में कदम रखने जा रहा हूं।

हर दिन मैं घर से अपने परिवार की कड़वी बातें सुन कर निकलता था।

सोचिये गाना रेकॉर्ड करते समय मेरा मूड कैसा रहता होगा।

उनकी समझ में नहीं आता था कि और लोगों की तरह मैं 9 से 5 वाली नौकरी क्यों नहीं कर सकता।

तो जब मैंने शुरुआत की, तो सबसे बड़ी चुनौती मेरे परिवार से मिली। बाद में आगे बढ़ने पर कई और चुनौतियों से मेरा सामना हुआ।

पिछले 2-3 सालों में मैंने बहुत कुछ सहा है।

गाना सुनने वालों को लगता है कि मेरी ज़िंदग़ी में सब कुछ सही चल रहा है। लेकिन मेरा सफ़र बेहद मुश्किल रहा है।

जब मैं लोकप्रिय हो गया और अपने पैरों पर खड़ा हो गया, तो सेलेब्रिटी की ज़िंदग़ी जीना मेरे लिये मुश्किल था।

फिलहाल, मैं चीज़ों के बीच संतुलन बनाने की कोशिश कर रहा हूं और अपनी निजी ज़िंदग़ी में मुझे प्रेरणा देने वाले गाने बना रहा हूं।

मेरा नया गाना रुकता ना  ज़िंदग़ी में कभी न रुकने के जज़्बे पर आधारित है। इससे मुझे अपने काम को करते रहने और उसमें और भी आगे निकलने का हौसला मिलता है।

इस गाने के रूप में मैं दुनिया को बताना चाहता हूं कि मैं कभी नहीं रुकूंगा और आगे बढ़ता रहूंगा।

अब मेरे परिवार में बदलाव आया है और वे सभी मेरे म्यूज़िक को ज़्यादा अच्छी तरह समझने लगे हैं।

वो मुझे अपनी मनपसंद राह पर चलने का मौका देना चाहते हैं। उन्होंने मुझे दो साल में साबित करने के लिये कहा है कि जो मैं कर रहा हूं, उसमें सफल हो सकता हूं।

अगर सब कुछ सही रहा, तो वो मुझे आगे म्यूज़िक बनाते रहने की इजाज़त देंगे।

मेरा फ़ैन बेस बढ़ गया है और अब बातें सिर्फ मेरे परिवार और मेरे समुदाय तक सीमित नहीं हैं।

लोग मेरे माता-पिता के पास आकर उनसे कहते हैं कि उन्हें मुझे अपनी राह पर चलने का एक मौका देना चाहिये।

 

आपका म्यूज़िक किस बारे में है?

मुझे मेरी ज़िंदग़ी में सुख-सुविधाऍं न होने का दुःख था।

मैंने कभी ज़िंदग़ी में शिकायत नहीं की, क्योंकि मुझे लगता था कि कम से कम मेरे पास आइपैड तो है -- उनका आफ़त का म्यूज़िक वीडियो 2014 में आइपैड की मदद से बनाया गया था।

गली में ऐसे भी लड़के हैं जो इसका सपना भी नहीं देख सकते।

मेरे पिता अपने बच्चों को छोटी-छोटी सुख-सुविधाऍं देने के लिये कड़ी मेहनत करते हैं।

मुझे एक कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ने का मौका मिला। गली बॉइज़ म्यूनिसिपल स्कूल भी नहीं जा पाते।

लेकिन मैं कुछ चीज़ों को लेकर दुःखी था... जैसे लोगों का अपने बच्चों को सही तरीके से न पढ़ाना, लोगों का ग़लत चीज़ें करके एक समुदाय का नाम ख़राब करना, पुलिस की क्रूरता, मेरे क्षेत्र में महिलाओं पर हो रहा अत्याचार। और ये सभी चीज़ें मेरे गानों में निकल कर सामने आती हैं।

मेरे म्यूज़िक के माध्यम से मैं अपनी भावनाओं को और ख़ुद को सामने ला पाता हूं। और इसी कारण लोग मेरे गानों में ख़ुद को देख पाते हैं।

आप गानों की रिलीज़ के बीच में बहुत ज़्यादा लंबे ब्रेक लेते हैं? ऐसा क्यों होता है?

इसका कारण आराम करना नहीं है। जब कोई गाना रिलीज़ करने के बाद मैं चुप बैठ जाता हूं, तो हारे हुए योद्धा जैसा महसूस करता हूं। मेरे जैसे रैपर के लिये इससे बुरा कुछ नहीं हो सकता।

लेकिन ऐसा इसलिये हुआ क्योंकि मेरे पास गाना ठीक से रिलीज़ करने के लिये सही मैनेजमेंट और व्यवस्था नहीं थी।

इसलिये मैं व्यवस्था की तलाश में चुप बैठा रहा। गाना रिलीज़ करने से पहले मैं रीसर्च में अपना समय लेता हूं।

अब मुझे ख़ुशी है कि मेरी एक टीम है और इसलिये मैं अपने गाने जल्दी रिलीज़ कर पाऊंगा।

देखें: नेज़ी दिल खोल कर रैप करते हुएख़ास रिडिफ़.कॉम के लिये 

संगीत और अंडरग्राउंड रैप के दृश्यों के लिए सच्चे रहना

यह बेहद मुश्किल होगा। जहाँ मैं आज हूं, वहाँ से मैं आगे की चुनौतियों को देख सकता हूं, ख़ास तौर पर इंडस्ट्री और जिस जगह से मैं आया हूं, उसे देखते हुए तो ऐसा ही लगता है।

लेकिन जैसा कि लोग कहते हैं, जब आपके इरादे मज़बूत हों, तो आप जहाँ जाते हैं वहाँ चीज़ों को बदल सकते हैं।

मेरी कोशिश है यहाँ के सिस्टम को बदलने की।

जब कोई बॉलीवुड प्रोड्यूसर मेरे पास आयेगा, तो मैं उन्हें सिर्फ सुनना नहीं चाहता।

मैं उन्हें अपने सुझाव देना चाहूँगा और उम्मीद करूंगा कि सब सही हो।

मुझे लगता है कि आगे का सफ़र बेहद मुश्किल होगा। लेकिन मैं इसके लिये तैयार हूं।

कभी-कभी मुझे लगता है कि मुझे सही संतुलन बनाये रखने के लिये थोड़ी-बहुत क़ुर्बानियाँ देनी होंगी।

कई बार मैं कमर्शियल गाने करता हूं, लेकिन दो अंडरग्राउंड गाने भी रिलीज़ करता हूं, जो असली नेज़ी होते हैं।

 Naezy with Madhuri Dixit Nene on the sets of Dance Deewane.

फोटो: नेज़ी और माधुरी दीक्षित नेने डांस दीवाने  के सेट्स पर

असली नेज़ी क्या है?

यह वास्तविकता पर आधारित है।

इसमें काल्पनिक घटक नहीं हैं।

यह बिकाऊ नहीं है।

यह सच कहने और किसी से न डरने के बारे में है।

यह निडर है।

इसे आरोपों, सरकार या सिस्टम का डर नहीं है।

यह साफ़ सच है।

अगले गली बॉय को आपकी सलाह क्या होगी?

वर्तमान में जियो। मैं अपना टाइम आयेगा  में विश्वास नहीं रखता।

अपना टाइम आ चुका है।

अगर तुम वक़्त आने का इंतज़ार करोगे, तो हमेशा इंतज़ार ही करते रह जाओगे।

मेरे पहले गाने आफ़त! के साथ मैंने यही सोचा था।

मैं बैठ कर लोगों की मदद का इंतज़ार नहीं कर सकता था।

ख़ुद में विश्वास रखो और अपने पास उपलब्ध साधनों की मदद से बेहतरीन म्यूज़िक बनाओ।

अंडरग्राउंड रैपर्स को ख़ुद पर भरोसा रखना चाहिये और लगातार काम करते रहना चाहिये।

सफलता पाने के बाद की ज़िंदग़ी भी आसान नहीं होती।

उन्हें लगातार अपने हुनर पर मेहनत करनी चाहिये, अलग-अलग तरह का म्यूज़िक सुनना चाहिये और अपना काम करते रहना चाहिये। 

अनीता आइकरा