rediff.com

NewsApp (Free)

Read news as it happens
Download NewsApp

Available on  

Rediff News  All News 
Rediff.com  » Getahead » इस एथलीट के फिटनेस की कहानी सुनकर आप दंग रह जायेंगे

इस एथलीट के फिटनेस की कहानी सुनकर आप दंग रह जायेंगे

Last updated on: March 26, 2019 15:58 IST

राष्ट्रीय स्तर की एथलीट नमी राय पारेख ने अपनी शादी और खेल-कूद की सुविधाओं के अभाव को अपने फिटनेस के सफर के बीच नहीं आने दिया।

Namitha Rai

मैंगलोर में जन्मी नमिता राय 100 m हर्डल्स (बाधा दौड़) और 100 m रिले के खेल में राष्ट्रीय स्तर पर रजत और कांस्य पदक हासिल कर चुकी हैं।

वह सुबह कम से कम तीन घंटे और फिर शाम को दुबारा मैदान में दौड़ने जाती थीं।

तीन साल पहले उनकी शादी हो गयी और उन्हें अपने पति और ससुराल परिवार के साथ रहने के लिये रायपुर जाना पड़ा।

छत्तीसगढ़ में खेल-कूद सेवाओं की कमी के कारण नमी राय पारेख (शादी के बाद उनका नाम) पहले की तरह एथलेटिक्स का सफर जारी नहीं रख पायीं।

हिम्मत हारने या बहाने ढूंढने की जगह उन्होंने खेल-कूद और फिटनेस के अपने जुनून को ज़िंदा रखने के लिये जिम में कसरत करना शुरू कर दिया।

"बचपन से ही मैं खेल-कूद के वातावरण में पली-बढ़ी हूं। मैंने प्रैक्टिस के लिये मैदान में अनगिनत घंटे बिताये हैं। शादी के बाद मेरी एक ही इच्छा थी, अपने आपको खेल-कूद के क्षेत्र में आगे बढ़ना। छत्तीसगढ़ में स्पोर्ट्स फसिलिटीज़ की कमी के कारण, जिम में वर्क आउट करना ही एकमात्र विकल्प था। और अब धीरे-धीरे मुझे ये पसंद आने लगा है,'' नमी ने दिव्या नायर / रिडिफ़.कॉम से कहा।

55 किग्रा वज़न की 28 वर्षीया खिलाड़ी लोगों को बहाने बनाना छोड़ कर अपने सपनों की ओर कदम बढ़ाने की प्रेरणा देना चाहती है।

उनके फिटनेस के प्रेरणादायक सफर के बारे में और जानने के लिये नीचे पढ़ें।

Namitha Rai

फोटो: नमिता उर्फ़ नमी राय पारेख, जिन्हें प्यार से नमी बुलाया जाता है, ने तीन साल पहले ट्रेनिंग शुरू की और वो अपने ससुराल परिवार और पति का इसमें साथ देने के लिए  धन्यवाद करती हैं।
सभी फोटोग्राफ: Nami Rai/Instagram के सौजन्य से

"मैं सुबह 6.30 बजे उठ जाती हूं और एक ग्लास गर्म पानी में नींबू के रस और नमक के साथ अपना दिन शुरू करती हूं। अपने ससुराल परिवार के लिये नाश्ता बनाने और परोसने के बाद, एक कप ब्लैक कॉफ़ी पीकर मैं जिम जाने के लिये तैयार हो जाती हूं," उन्होंने बताया।

"मैं सुबह 9 बजे तक जिम पहुंच जाती हूं और अक्सर 3 घंटे वर्क आउट करती हूं। मैं घर पर साधारण लंच करती हूं और कुछ देर सो जाती हूं, ताकि मेरे शरीर को ठीक होने का मौका मिले।"

"मैं बेहद लकी हूं क्योंकि मेरे घर पर हर कोई मुझे समझता है और मेरे सपनों की ओर बढ़ने में मेरा सहयोग करता है।"

Namitha Rai

फोटो: ह्यूमन फ़्लैग पोल करते हुए उनकी एक तसवीर। राय कोई बहुत ज़्यादा कठोर डाइट नहीं करतीं और सामान्य, घर का बना खाना खाती हैं। लेकिन वो स्वस्थ आहार लेने में और बाहर की चीज़ें कम खाने में विश्वास रखती हैं।

"प्रोटीन शेक्स और अंडे, दूध या पनीर खाकर मैं अपनी प्रोटीन की ज़रूरत पूरी करती हूं।"

Namitha Rai

फोटो: नमी सप्ताह में कम से कम छः दिन वर्क आउट करती हैं और हर मसल (मांसपेशी) को अलग-अलग ट्रेन करती हैं।

"मैं कोर मसल्स (मूल मांसपेशियों) और पैर के मसल्स को ज़्यादा से ज़्यादा ट्रेन करने में विश्वास रखती हूं, क्योंकि ये आपकी मुख्य मांसपेशियाँ हैं, जिनकी मदद से आप अपने सपनों की फ़िज़ीक बना सकते हैं।"
"कार्डियो के रूप में दौड़ना भी मेरे कार्यक्रम का एक हिस्सा है," उन्होंने कहा।

Namitha Rai

फोटो: उनका मानना है कि ध्यान भटकने न देना सबसे महत्वपूर्ण चीज़ है।

"हर दिन अच्छा नहीं होता, हर दिन आपकी उम्मीदों पर खरा नहीं उतरता। कई बार आप जितना चाहते हैं उतना नहीं उठा पाते। और यहीं पर लोग हिम्मत हार जाते हैं। मेरा कहना है कि अपना पूरा दम लगाइये और अपनी मंज़िल से ध्यान भटकाये बिना आगे बढ़ते रहिये।"

"फिटनेस एक सफर है, मंज़िल नहीं।"

Namitha Rai

फोटो: एक अच्छे दिन में 130 किग्रा तक का डेड लिफ़्ट कर लेने वाली इस एथलीट को भी अक्सर लोगों की आलोचना का सामना करना पड़ा है, लेकिन कुछ समय बाद उन्होंने इसपर ध्यान देना बंद कर दिया।
"मैंने इन चीज़ों पर ध्यान देना बंद कर दिया, क्योंकि मुझे पता है कि मैं जो कर रही हूं, उससे मुझे फायदा मिल रहा है। आपको किसी भी चीज़ को अपनी मंज़िल के रास्ते में नहीं आने देना चाहिये।"

Namitha Rai

फोटो: युवाओं को सलाह देते हुए उन्होंने कहा "और मेहनत करो।"

"अक्सर हमारे युवा फिल्म स्टार्स को देख कर उनके जैसे बनना चाहते हैं। वो कोशिश तो करते हैं, लेकिन बदलाव नहीं होता देख कर हिम्मत हार जाते हैं। उन्हें समझना चाहिये कि उन फिल्म स्टार्स ने उस फिज़ीक तक पहुंचने के लिये कई सालों की कड़ी मेहनत की है। अगर आप उतनी ही कड़ी मेहनत करेंगे, तो आप ज़रूर सफल होंगे।"

Namitha Rai

फोटो: नमी कहीं पढ़े हुए एक वाक्य पर पूरा विश्वास रखती हैं।
"अपनी मंज़िल पर न होना ही आपके लिये सबसे बड़ी प्रेरणा है," उन्होंने कहा।

Namitha Rai

फोटो: उनका सपना है एक विश्वस्तरीय फिटनेस सेंटर खोलना, जहाँ वो "शारीरिक के साथ-साथ मानसिक तंदुरुस्ती पर भी ध्यान देने वाली अत्याधुनिक सेवाएँ प्रदान कर सकें।"

"फिटनेस एक जीवनशैली है और यही बात मैं सभी को सिखाना चाहती हूं," उन्होंने कहा।

दिव्या नायर